Skip to product information
1 of 2

Divane-Galib (दीवाने-ग़ालिब)

Divane-Galib (दीवाने-ग़ालिब)

Regular price Rs.269.10
Regular price Rs.299.00 Sale price Rs.269.10
-10% OFF Sold out
Shipping calculated at checkout.

Author:

Publisher:

Pages:

Edition:

Binding:

Language:

Translator:

बेदिल’ के बाद किसी शाइर की मिर्ज़ा ग़ालिब ने तारीफ़ की है तो वह मीर तक़ी मीर हैं। बेदिल, फ़ारसी के महत्त्वपूर्ण शाइर थे तो मीर की महानता उर्दू में उजागर हुई है। हालाँकि ‘मीर’ ने फ़ारसी में भी शाइरी की है। ‘मीर’ की महानता का गुणगान करने के कई कारण हो सकते हैं। उनमें से एक यह भी हो सकता है कि ‘मीर’ भी बचपन में अनाथ हो गये थे उन्हें भी पारिवारिक कारणों से अपना वतन आगरा छोड़ कर दिल्ली में आना पड़ा था। यह भी कि ‘मीर’ अपने समय के ऐसे महानतम शाइर थे जिनका लोहा सभी ने माना था। लोग उपहार स्वरूप उनकी ग़ज़लें ले जाते थे।

ISBN No. :9789350726259
Author :Shin Kaph Nijam
Publisher :Vani Prakashan
Translator :Shin Kaph Nijam
Binding :Paperback
Pages :315
Language :Hindi
Edition :1st/2015
View full details